कारपोरेट संचालन

कंपनी संचालन, निगम के नियम,प्रक्रिया तथा निर्विवादीय नियम जो कॉर्पोरेशन के सूचनापरक प्रबंधकीय निर्णय लेने में सहयोग करता है तथा साथ ही साथ विषेशकर अपने साझेदारों, अपने अंशधारी, ऋणदाता,ग्राहकों, राज्‍य तथा कर्मचारियों के हित से संबंध रखता है । नीपको प्रबंधन हर समय अपने साझेदारों के हित में काम करता है तथा व्‍यापक साझेदारों के हित के लिए एक अच्‍छी कारपोरेट प्रचालन प्रक्रिया को अपनाया है।

संचालन कोड के सिद्धांत
(क)  संचालन प्रणाली पर सुदृढ़ नियंत्रण तथा पारदर्शीय रूप में बोर्ड को समय से सूचना उपलब्‍ध करना ताकि कार्य निष्‍पादन पर बोर्ड नजर रख सके और प्रबंधन को जबाब देह बना सके ।
(ख)  व्‍यापक रूप से पूरे देश तथा खास कर उद्यम की संपत्ति  को बढ़ाने के लिए निगम के व्‍यावसाय को प्रभावी रूप से बढ़ाना।
(ग)  कारपोरेट गरिमा को बनाए रखने तथा उसे अपने व्‍यवहार में लाने के लिए कर्मचारियों तथा बोर्ड के योगदान को सुनिश्चित करना ।

1. बोर्ड की संरचना तथा निदेशकों का विवरण :

(I) बोर्ड का गठन
निगम का निदेशक मंडल (बोर्ड), 13 (तेरह) निदेशकों का है, जिसमें 04 (चार) पूर्णकालि‍क निदेशक, 02 (दो) एनटीपीसी के नामांकित (प्रमोटर), 01 (एक) भारत सरकार के नामांकित, 01 (एक) पूर्वोत्‍तर राज्‍य सरकारों के नामांकित तथा 05 (पाँच) स्‍वतन्‍त्र निदेशक है ।
(।।) गैर-कार्यकारी निदेशक का मुआवजा और प्रकटीकरण :
निगम गैर कार्यपालक स्‍वतंत्र निदेशकों को बैठक शुल्‍क (सिटिंग फीस) भुगतान करता है ।
(।।।) बोर्ड की बैठकें, समिति की बैठकें तथा प्रक्रिया
(क)  प्रत्‍येक वर्ष कम से कम चार बोर्ड की बैठकें आयोजित की जाती हैं इन चार निर्धारित बैठकों के आलावा उपयुक्‍त सूचना देकर अतिरिक्‍त बैठक भी बुलाई जा सकती है। कार्य की आवश्‍यकता तथा मामले के महत्‍व के अनुसार परिपत्र के जरिए संकल्‍प पारित किया जाता है।
(ख)  प्रत्‍येक बोर्ड बैठक में परियोजना के कार्यान्‍वयन तथा निगम के संचालन संबंधी मामलें को निदेशक मंडल के समक्ष प्रस्‍तुत किया जाता है । सूचनाओं को डीपीई दिशा निर्देश के तहत बोर्ड के समक्ष रखा जाता है । वर्ष के प्रत्‍येक तिमाही में कम से कम बोर्ड की एक बैठक रखी जाती है ।
(ग) निदेशक मंडल, कंपनी सचिव द्वारा प्रस्‍त्‍तुत किए गये वि‍धिक अनुपालन रिपोर्ट को भी समय-समय पर समीक्षा करता है ।

2. आचरण कोड

निगम वाणिज्‍य के उच्‍चतम नैतिक नियम आचरण को अपनाते हुए व्‍यवसाय करने के लिए बचनबद्ध है तथा इसके लिए व्‍यवहारिक नियम, नीति तथा नियमन को अपनाता है।

आचरण कोड - विवरण के लिए लिंक पर क्लिक करें ।

3. जोखिम प्रबंधन नीति

निदेशक मंडल ने दिनांक 28.6.2010 की अपनी 175वीं बैठक में जोखिम प्रबंधन नीति को स्‍वीकृति दे दी है। जोखिम प्रबंधन नीति वर्ष 2011-12 से लागू की गई। इसके उपरांत, व्यापक कारोबारी परिवेश में बदलाव को देखते हुए, जोखिम प्रबंधन नीति की गहन समीक्षा करने का निर्णय लिया गया और एक सलाहकार के माध्यम से नई नीति तैयार करने की मंजूरी दी गई।  तदनुसार, एक नई नीति तैयार की गई और इसे 15.02.2016 को आयोजित 220 वीं बोर्ड बैठक में निदेशक मंडल द्वारा अनुमोदित किया गया । इसके अलावा, आगे संशोधन के प्रस्ताव पर विचार करते हुए, निदेशक मंडल ने 10.05.2019 को आयोजित अपनी 251 वीं बोर्ड बैठक में संशोधित जोखिम प्रबंधन नीति पर भी मंजूरी दी।

4. बोर्ड सदस्‍यों का प्रशिक्षण

बोर्ड के सदस्‍यों को आवश्‍यक दस्‍तावेज/रिपोर्ट तथा आंतरिक नीति उपलब्‍ध कराई जाती है जिससे वे निगम की प्रक्रिया और प्रणाली से रूबरू हो सके ।

5. लेखा परीक्षा समिति

वर्ष 2001 में लेखा परीक्षा समिति का गठन किया गया । बैठक में निदेशक (वित्‍त), आंतरिक लेखा परीक्षा के प्रमुख तथा विशेष रूप से आमंत्रित संविधिक लेखा परीक्षक भी शामिल होते हैं । समिति के सचिव के रूप में कंपनी सचिव कार्य करते हैं ।
इस लेखा परीक्षा समिति की बैठक के कार्यवत्‍त को बोर्ड के समक्ष सूचना के लिए प्रस्‍तुत किया जाता है । 

विवरण के लिए लिंक पर क्लिक करें ।

6. निदेशकों का पारिश्रमिक

केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्रक उद्यम होने के नाते निदेशकों की नियुक्ति, कार्यकाल व पारिश्रमिक पर निर्णय राष्ट्रपति द्वारा लिया जाता है।   इसलिए, निदेशकों के पारिश्रमिक का फैसला बोर्ड नहीं करता है । स्वतंत्र निदेशकों को बोर्ड बैठकों और इसकी समिति की बैठकों में भाग लेने के लिए बोर्ड द्वारा तय दर पर केवल बैठक फीस का भुगतान किया जाता है।  बोर्ड और समितियों की बैठकों में भाग लेने के लिए बैठक शुल्क को 11.06.2013 से 15,000 रुपये से बढ़ाकर 20,000 रुपये  कर दिया गया है।

7. अनावृति (डिसक्‍लोजर्स)

इण्ड एएस-24 के अनुसार संबंधित पक्ष की अनावृति का विवरण लेखा में नोट लिखे जानेवाले भाग में शा‍मिल किया गया है । कंपनी नियम के प्रावधानों तथा रेगुलेटरी अथोरिटी (नियामक प्राधिकरण) के मार्गदर्शी सिद्धांतों को लेकर चलती है ।

8. आम बैठक

किसी भी वार्षिक आम बैठक की तिथि, समय तथा स्‍थान का निर्धारण एक आंतरिक विषय है जो निगम के नियम (कंपनी एक्‍ट) तथा निगम के अंतर्नियम के तहत की जाती है ।

9. अशेधारी संबंधी सूचना

नीपको, एनटीपीसी लिमिटेड का एक पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, जिसमें कंपनी के 100% (सौ प्रतिशत) इक्विटी शेयर एनटीपीसी लिमिटेड के पास हैं। इसलिए, शेयरहोल्डिंग के वितरण का कोई पैटर्न नहीं दिया गया है।