संयुक्त उद्यम परियोजनाएं

Plants/ Joint Venture Plants:

Plants of NEEPCO in various stages of development in joint venture basis are as follows:

आखिरी अपडेट: 07/05/2019

भविष्य की परियोजनाएं

जल

क्रम सं परियोजना का नाम राज्य विवरण स्थिति
1 डिब्बिन जल विद्युत परियोजना (120 मेगावाट) अरुणाचल प्रदेश
  • इस परियोजना के विकास के लिए नीपको और केएसके एनर्जी वेंचर्स लिमिटेड के बीच 2014 को संयुक्त उद्यम कंपनी गठित की गई ।
  • वर्ष 2009 में टीईसी प्राप्त हुई ।
  • पर्यावरण मंजूरी एवं वन मंजूरी, चरण - I प्राप्त कर ली गई है ।
  • वन मंजूरी चरण – II प्रक्रियाधीन है। एमओईएफ़ एंड सीसी को आवश्यक शुल्क का भुगतान किया गया तथा राज्य सरकार के समक्ष आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया है।
  • बिचौम वेसिन अध्ययन रिपोर्ट के अनुसार पर्यावरणीय प्रवाह की शर्तों में यह परियोजना वाणिज्यिक रूप से अव्यवहारिक है।
  • अनुरोध पर, सीईए संशोधित डिजाइन ऊर्जा और दृढ़ स्थापित क्षमता के साथ टभर्भसी की प्रयोज्यता की सीमा की जाँच कर रहा है।
4 years
2 सियांग अपर स्टेज- II जल विद्युत परियोजना (3750 मेगावाट) अरुणाचल प्रदेश
  • इस परियोजना को नीपको, एनएचपीसी एवं राज्य सरकार के बीच संयुक्त उद्यम के रूप में कार्यान्वित करने के लिए 2013 को राज्य सरकार के साथ समझोता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया।
  • नीपको ने पीएफआर तैयार किया।
  • कुछ पहलुओं पर अंतिम निर्णय होने तक एमओपी के पत्र दिनांकित 18.11.2015 के अनुसार वर्तमान में डीपीआर और ईआईए/ईएमपी का कार्य स्थगित रखा गया है।
8 वर्ष
3 कुरूंग जल-विद्युत परियोजना (330 मेगावाट) अरुणाचल प्रदेश
  • डीपीआर तैयार करने एवं राज्य सरकार के साथ मिलकर संयुक्त उद्यम के रूप में इसे कार्यान्वित करने हेतु 2015 में अरुणाचल प्रदेश सरकार के साथ एमओए पर हस्ताक्षर किया गया ।
  • नीपको ने पीएफआर तैयार किया।
  • एमओपी से निवेश पूर्व प्रस्ताव पर स्वीकृत प्रक्रियाधीन है।
6.5 वर्ष